Written by 4:57 am India news Views: 9

अब तो दीवारों से निकल रहे हैं करेंसी नोट : योगी आदित्यनाथ ने साधा विपक्ष पर निशाना

अब तो दीवारों से निकल रहे हैं करेंसी नोट : योगी आदित्यनाथ ने साधा विपक्ष पर निशाना

लखनऊ: 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि पिछली सरकार लोगों को लूट रही थी, जबकि अब कल्याणकारी योजनाओं के लिए पैसा खर्च किया जा रहा है. साथ ही कहा कि पिछली सरकार के दौरान करोड़ों रुपये का गबन किया गया था, जो अब उनके पांच साल सत्ता से बाहर रहने के बाद भी दीवारों से बाहर निकाला जा रहा है.  योगी आदित्यनाथ ने कानपुर के व्यापारी पीयूष जैन के ठिकानों पर छापेमारी का जिक्र करते हुए कहा, ‘भारतीय जनता पार्टी की डबल इंजन वाली सरकार जहां पूरी प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही हैं, वहां आपने देखा होगा कि जो लोग पांच साल से सत्ता से बाहर हैं, आज भी उनकी दीवारों से करोड़ों रुपए निकल रहे हैं.’ इस छापेमारी में अब तक कुल 177.45 करोड़ रुपए नकद बरामद हो चुके हैं.

उन्होंने रविवार को ‘जन विश्वास यात्रा’ के दौरान यूपी के कौशांबी में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘केंद्र और राज्य सरकारें राज्य के लोगों को जो मुफ्त भोजन दे रही हैं, उस पैसे का इस्तेमाल पहले की सरकारों में भ्रष्टाचार के लिए किया जाता रहा है.’

मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष ने कोविड-19 के टीकों का विरोध कर मानवता के खिलाफ अपराध किया है. उन्होंने कहा, ‘जो लोग वैक्सीन के खिलाफ थे वे मानवता के खिलाफ अपराध कर रहे थे और कोरोना से दोस्ती कर रहे थे. उन्होंने गरीबों की परवाह नहीं की. जब उन्हें मौका मिला, तब वे कुछ नहीं कर पाए. यही कारण है कि जब वे अब सत्ता से बाहर हैं, वे गलत जानकरी के जरिए लोगों की जिंदगी से खेल रहे हैं.’

अपनी सरकार की “उपलब्धियों” का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कौशाम्बी में 50,000 परिवारों को नए घर आवंटित किए गए है. उन्होंने कहा, ‘”कौशाम्बी में करीब 50,000 परिवारों को नए घर आवंटित किए गए. पहले कावेरी यात्रा पर प्रतिबंध थे, आज सरकार फूलों से स्वागत कर रही है. पहले प्रयागराज में कुंभ में भगदड़ होती थी, अब जब प्रयागराज में कुंभ का आयोजन किया जाता है, तो दुनियाभर के श्रद्धालु तैयारियों की सराहना करते हैं.’

बता दें, उत्तर प्रदेश में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने हैं. उत्तर प्रदेश में 2017 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने 403 सीटों वाली विधानसभा में से 312 सीटें हासिल की थीं, जबकि समाजवादी पार्टी (सपा) को 47 सीटें मिली थीं. बसपा को 19 और कांग्रेस केवल 7 सीटों पर ही जीतने में कामयाब रही.

(Visited 9 times, 1 visits today)
Close